Information: आजाद हिंद फौज की स्थापना कब और किसने की? | Azad Hind Fauj ki Sthapna Kab Aur Kisne ki? : – खास बात यह है कि इस फौज की स्थापना भारत में नहीं, बल्कि जापान में की गई थी. आजाद हिंद फौज की स्थापना टोक्यो (जापान) में 1942 में रासबिहारी बोस ने की थी. उन्होंने 28 से 30 मार्च तक फौज के गठन पर विचार के लिए एक सम्मेलन बुलाया और इसकी स्थापना हुई. इसका उद्देश्य द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान अंग्रेजों के खिलाफ लड़ना था.

आज़ाद हिन्द फौज का गठन पहली बार राजा महेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा 29 अक्टूबर 1915 को अफगानिस्तान में हुआ था। मूल रूप से उस वक्त यह आजाद हिन्द सरकार की सेना थी, जिसका लक्ष्य अंग्रेजों से लड़कर भारत को स्वतंत्रता दिलाना था। जब दक्षिण-पूर्वी एशिया में जापान के सहयोग द्वारा नेताजी सुभाषचंद्र बोस ने करीब 40,000 भारतीय स्त्री-पुरुषों की प्रशिक्षित सेना का गठन शुरू किया और उसे भी आजाद हिन्द फौज नाम दिया तो उन्हें आज़ाद हिन्द फौज का सर्वोच्च कमाण्डर नियुक्त करके उनके हाथों में इसकी कमान सौंप दी गई।

आज़ाद हिंद फौज की स्थापना कहाँ की गई?

अगस्त 1942, दक्षिण पूर्व एशिया

सुभाष चन्द्र बोस को सबसे पहले कारावास कितने महीने का हुआ था?

इस दौरान ब्रिटिश सरकार ने उनके खिलाफ कई मुकदमें दर्ज किए. जिसका नतीजा ये हुआ कि सुभाष चंद्र बोस को अपने जीवन में 11 बार जेल जाना पड़ा. वे सबसे पहले 16 जुलाई 1921 को जेल गए थे. जब उन्हें छह महीने के लिए सलाखों के पीछे जाना पड़ा था

आजाद हिंद फौज का प्रथम सेनापति कौन था?

सुभाषचन्द्र बोस ने 1941 ई.

फौज की स्थापना कब हुआ?

आज़ाद हिन्द फ़ौज

उद्देश्यभारत को स्वतंत्र कराने के लिए
स्थापना21 अक्टूबर, 1943
प्रतीक चिह्नएक झंडे पर दहाड़ते हुए बाघ का चित्र
संबंधित लेखसुभाष चंद्र बोस, कैप्टन मोहन सिंह, रासबिहारी बोस
प्रथम सेनापति सुभाषचन्द्र बोस
स्थापना दक्षिण पूर्व एशिया

2 thoughts on “{जाने} आजाद हिंद फौज की स्थापना कब और किसने की? | Azad Hind Fauj ki Sthapna Kab Aur Kisne ki?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *